• Breaking News

    16.10.18

    Environmental Studies (पर्यावरण अध्ययन) भाग- 7 के विषय अभ्‍यारण्‍य/जैवमंडल रिजर्व के शानदार नोट्स


    हेल्लो दोस्तों आज हम आपसे Environmental Studies (पर्यावरण अध्ययन) भाग- 7 के विषय अभ्‍यारण्‍य/जैवमंडल रिजर्व ( Sanctuary and Biosphere Reserves ) के शानदार नोट्स साझा करने जा रहे हैं. तो चलिए शुरू करते हैं आज की प्रश्नोत्तरी

    ·         एशियाटिक बब्‍बर शेर (Asiatic Lion) का निवास कहां है – गिर वन
    ·         केवलादेव घाना राष्‍ट्रीय उद्यान जिसे पूर्व में भरतपुर पक्षी अभयारण्‍य के नाम से जाना जाता था, भरतपुर (राजस्‍थान) में स्थित है। यहां की संरक्षित प्रजाति नहीं है – शेर
    ·         जीवमंडल आरक्षित परिरक्षण क्षेत्र है – आनुवांशिक विभिन्‍नता के
    ·         भारत सरकार ने अब तक 18 जैवमंडल आरक्षित क्षेत्रस्‍थापित किए हैं, जिनमें यूनेस्‍को ने जैवमंडल आरक्षित क्षेत्रों के विश्‍व संजाल में सम्मिलित किया है – 10 को
    ·         भारत के विभिन्‍न जैव भंडारों में से जो गारो पहाडि़यों पर फैला हुआ है – नोकरेक
    ·         नंदादेवी जीव मंडल जिस राज्‍य में स्थित है, वह है – उत्‍तराखंड
    ·         विश्‍व धरोहर’ स्‍थल (वर्ल्‍ड हैरिटेज साइट) घोषित है नंदादेवी जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र
    ·         भारत के जैव मंडल रिज़र्व की सूवी में हाल ही में (वर्ष 2009 में) जोड़ा गया है – कोल्‍ड डेजर्ट (शीत रेगिस्‍तान) को
    ·         राष्‍ट्रीय उद्यानकी सीमा रेखा परिभाषित होती है – विधान से
    ·         वन्‍य प्राणी अभ्‍यारण्‍य में अनुमति होती है – सीमित जीवीय हस्‍तक्षेप की
    ·         उत्‍तराखण्‍ड राज्‍य के जिस राष्‍ट्रीय पार्क को वर्ष 2016 में ‘प्रोजेक्‍स टाइगर परियोजना’ के अंतर्गत सम्मिलित किया गया – राजा जी राष्‍ट्रीय पार्क
    ·         उत्‍तराखण्‍ड के जिस वन्‍यजीव विहार समूह की स्थिति का पश्चिम से पूर्व की ओर का सही क्रम है, वह है –केदारनाथ-नंदा देवी-बिनसर-अस्‍कोट
    ·         M-STrIPES शब्‍द कभी-कभी समाचारों में जिस संदर्भ में देखा जाता है, वह है – बाघ अभ्‍यारण्‍यों का रख-रखाव
    ·         हाल ही में कुछ शेरों को गुजरात के उनके प्राकृतिक आवास से जिस एक स्‍थल पर स्‍थानांतरित किए जाने का प्रस्‍ताव हैं, वह है – कुनो पालपुर वन्‍यजीव अभ्‍यारणय
    ·         पारिस्थितिक दृष्टिकोण से पूर्वी घाटों और पश्चिमी घाटों के बीच एक अच्‍छा संपर्क होने के रूप में जिसकामहत्‍व अधिक है, वह है सत्‍यमंगलम बाघ आरक्षित क्षेत्र (सत्‍यमंगलम टाइगर रिजर्व)
    ·         झारखण्‍ड सरकार ने राज्‍य के विभिन्‍न वन्‍यजीव अभ्‍यारण्‍यों में वन्‍यजीव प्रबंधनयोजना शुरूकी है – 10 वर्ष की अवधि के लिए
    ·         महुआडांर अभ्‍यारण्‍य झारखंड के जिस जिले में है, वह है – लातेहार
    ·         अंतरराष्‍ट्रीय ‘टाईगर दिवस’ मनायाजाता है – 29 जुलाई को
    ·         भारत के अधिकांश वन्‍य जीव संरक्षित क्षेत्र घिरे हुए हैं – घने जंगलों से
    ·         भारत में आज ऐसे कितने राष्‍ट्रीय उद्यान है, जिन्‍हें देश के वन्‍य-प्राणियों की सुरक्षा के लिए बनाया गया है– 103
    ·         सरकार की ‘बाघ परियोजना’ का उद्देश्‍य है – भारतीय बाघ को समाप्‍त होने से बचाना
    ·         भारतीय टाइगरों को बचाने के लिए प्रो‍जेक्‍स टाईगर प्रारंभ किया गया था – वर्ष 1973 में
    ·         भारती का राष्‍ट्रीय जैविक उद्यान स्थित है – नई दिल्‍ली में
    ·         भारत में स्‍थापित पहला राष्‍ट्रीय उद्यान है – जिम कॉर्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         राजीव गांधी नेशनल पार्क अवस्थित है – कर्नाटक में
    ·         पेरियार गेम अभ्‍यारण्‍य प्रसिद्ध है – जंगली हाथियों के लिए
    ·         बेतला राष्‍ट्रीय पार्क की स्‍थापना 1986 में हुई थीतत्‍कालीन बिहार (वर्तमान झारखंड) में
    ·         भारत में सबसे बड़ा बाघ आवास पाया जाता है – आंध्रप्रदेश में
    ·         जिस वर्ग के आरक्षित क्षेत्रों में स्‍थानीयलोगों को जीवभार एकत्रित करने और उसके उपयोगकी अनुमति नहीं है – राष्‍ट्रीय उद्यानों में
    ·         जिस राष्‍ट्रीय उद्यान/अभ्‍यारण्‍य को ‘विश्‍व प्राकृतिक धराहर’ के नाम से जाना जाता है केवलादेव राष्‍ट्रीय उद्यानभरतपुर
    ·         हाथी परियोजनाशुरू की गई थी – फरवरी, 1992 में
    ·         जंगली गदहों का अभ्‍यारण्‍य है – गुजरात में
    ·         एक सींग वाला गैंडा पाया जाता है – काज़ीरंगा
    ·         गैंडे को पुनर्वासित करने का कार्य जिस राष्‍ट्रीय उद्यान में चल रहा है, वह है – दुधवा राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         उधव पक्षी विहार अवस्थित है – साहेबगंज में
    ·         उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान, मध्‍यप्रदेश व प.बंगालमें से जिसमें सर्वाधिक संख्‍या में वन्‍य जीव अभ्‍यारण्‍य (नेशनल पार्क और अभ्‍यारण्‍य) हैं – मध्‍यप्रदेश में
    ·         सर्वाधिक राष्‍ट्रीय पार्कों की संख्‍या 9-9 हैं – अंडमान-निकाबार एवं मध्‍यप्रदेश में
    ·         साइबेरियन सारस के लिए आदर्श प्राकृतिक निवास है – राजस्‍थान
    ·         सरिस्‍का एवं रणथम्‍भौर जिस जानवर के लिए संरक्षित हैं – बाघ
    ·         बाघों का प्रमुख रिज़र्व ‘सरिस्‍का’ जिस राज्‍य में अवस्थित है – राजस्‍थान (अलवर जिला)
    ·         सलीम अली राष्‍ट्रीय उद्यान’ स्थित है – जम्‍मू और कश्‍मीर में
    ·         चन्‍द्रप्रभा वन्‍य जीव अभ्‍यारण्‍य 78 वर्ग किमी क्षेत्रफल में विस्‍तारित है – उ.प्रके चंदौली जिले में
    ·         करेरा वन्‍य जीव अभ्‍यारण्‍य लगभग 202 वर्ग किमी क्षेत्र में स्थित है –म.प्र.के शिवपुरी जिले में
    ·         160 वर्ग किमी क्षेत्र में फैला जयसमंद वन्‍य जीव अभ्‍यारण्‍य स्थित है – राजस्‍थान के उदयपुर जिले में
    ·         नाहरगढ़ वन्‍य जीव अभ्‍यारण्‍य एक लघु अभ्‍यारण्‍य है, जो है – राजस्‍थान के बारां जिले में
    ·         भारत के टाईगर रिजर्व में से जो मिज़ोरम में अवस्थित है – दम्‍फा
    ·         बाघ आरक्षित क्षेत्रदो राज्‍यों में विस्‍तृत है – पेंच
    ·         व्‍याघ्र अभ्‍यारण्‍य है –कान्‍हारणथम्‍भौरबांधवगढ़
    ·         काजीरंगा जाना जाता है – गैंडा के लिए
    ·         असम में मानस अभ्‍यारण्‍य जाना जाता है – बाघों के लिए
    ·         बस्‍तर क्षेत्र में अवस्थित है – इंद्रावती राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         मध्‍य प्रदेश के शहडोल मंडल के उमरिया जिले में स्थित है – बांधवगढ़ राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         दांडेली अभ्‍यारण्‍य स्थित है – कर्नाटक में
    ·         उत्‍तराखण्‍ड के तीन जिलों देहरादून, हरिद्वार और पोड़ी गढ़वाल में अवस्थित है – राजाजी राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         केवलादेव राष्‍ट्रीय उद्यान – भरतपुर
    ·         महान हिमालयी राष्‍ट्रीय उद्यान हिमाचल प्रदेश के मुल्‍लू क्षेत्र में, राजाजी राष्‍ट्रीय उद्यान उत्‍त्‍राखंड के देहरादून, हरिद्वार और पौड़ी गढ़वाल में, केवलादेव राष्‍ट्रीय उद्यान राजस्‍थान के भरतपुर जिले में तथा वन विहार राष्‍ट्रीय उद्यान विस्‍तारित है – मध्‍यप्रदेश राज्‍य के भोपाल जिले में
    ·         यलोस्‍थेन नेशनल पार्क स्थित है – संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका में
    ·         सागरीय राष्‍ट्रीय उद्यान है – मन्‍नार की खाड़ी में
    ·         यूनेस्‍को ने जुलाई, 2016 में भारत के जिस राष्‍ट्रीय उद्यान को विश्‍व धरोहर स्‍थल घोषित किया वह है कंचनजंगा (खांगचेंग जोंगा) राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         कॉर्बेट तथा राजाजी राष्‍ट्रीय उद्यान में वन्‍य जीव प्रबंधन हेतु जिस पैमाने के हवाई छाया चित्र उपयुक्‍त हैं लघु पैमाने वाले हवाई छाया चित्र
    ·         एक नेशनल पार्क इसलिएअनूठा है कि वह एक प्‍लवमान (फ्लोटिंग) वनस्‍पति से युक्‍त अनूप (स्‍वैंप) होने के कारण समृद्ध जैव-विविधता को बढ़ावा देता है –केइबुल लाम्‍जाओ नेशनल पार्क
    ·         चमकीले नीले धब्‍बों के साथ मखमली काले पंखों वाली ब्‍लू मारमॉन (Blue Mormin) तितली को सर्वप्रथम ‘राज्‍य तितली’ के रूप में घोषित किया है – महाराष्‍ट्र ने
    ·         सदर्न बर्डविंग (Southern Birdwing) भारत की सबसे बड़ी तितली है, जिसे ‘राज्‍य तितली’ का दर्जा दिया है – कर्नाटक ने
    ·         यूनेस्‍को द्वारा ‘मैन एंड बायोस्‍फीयर प्रोग्राम’ (MAB) की शुरुआत हुई थी – 1971 में
    ·         ग्रेट हिमालय राष्‍ट्रीय पार्क जिसे यूनेस्‍को ने विश्‍व धरोहर स्‍थल घोषित किया है, स्थित है हिमाचल प्रदेश में
    ·         नीलगिरि, नंदादेवी, सुंदरबन तथा मन्‍नार की खाड़ी में से यूनेस्‍को द्वारा प्रमाणित (क्षेत्रफल की दृष्टि से) भारत की वृहत्‍तम जैवमंडलीय निधि है मन्‍नार की खाड़ी
    ·         मेघालय स्थित गारो-खासी रेंज का एक भाग है – गारो पहाडि़यां
    ·         लोकटक झील भारत में ताजे पानी (मीठा पानी) की सगसे बड़ी झील है, जो स्थित है मणिपुर में
    ·         यह पूर्वी हिमालय जैवविविधता हॉट स्‍पॉट एरिया में सबसेबड़ा संरक्षित क्षेत्र है नामदफा राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         भारत का सोलहवां जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र ‘शीत मरुस्‍थल’ स्थित है – हिमाचल प्रदेश में
    ·         पांच मौसमों का बाग स्थित है –महरौली के समीप
    ·         समस्‍त विश्‍व में बाघों की आकलित संख्‍या 3000-4000 के मध्‍य है। भारत में बाघों की संख्‍या (नवीनतम बाघ गणना के अनुसार) आकलित है – 2226
    ·         जिस राष्‍ट्रीय उद्यान ने वन्‍यजीव प्रबंधन के लिए ड्रोन या मानव-रहित हवाई वाहन का उपयोग करना प्रारंभ कर दिया है बांदीपुर टाइगर रिज़र्व
    ·         गिर के शेरों को रखे जाने हेतु जिस राष्‍ट्रीय पार्क/अभ्‍यारण्‍य का चयन किया गया है – पालनुर कूनो
    ·         पालपुर नामक स्‍थल पर अवस्थित कूनो वन्‍य जीव अभ्‍यारण्‍य (Kuno Wildlife Sanctuary) का एशियाई शेरों के पुनर्प्रवेश स्‍थल के रूप में चयन किया गया है श्‍योपुर(मध्‍यप्रदेश) जिले में
    ·         निम्‍नलिखित युग्‍मों पर विचार कीजिए –
    ·         पूर्वोत्‍तर भारतके राज्‍यों में विशेषत: असम में पाए जाते हैं हुलुक गिबन
    ·         ग्रेटइंडियन हॉर्नबिल’ अपने प्राकृतिक आवासमें पाए जाने की सबसे अधिक संभावना कहां है पश्चिमी घाट
    ·         इसका प्राकृतिक आवास पश्चिमी घाट है। इस पक्षी का वैज्ञानिक नाम ब्‍यूसेरसबाइकार्निस (Buceros bicornis) है। यह पक्षी एक विशेष प्रकार का घोंसला बनाता है। वनों की कटाई होने से इस पक्षी की प्राकृतिक आवास नष्‍ट हो रहा है ग्रेड इंडियन हॉर्नबिल
    ·         भारत का प्रथम तितली उद्यान, बन्‍नरघट्टा जैविकी उद्यान है, जो स्थितहै बंगलुरू में
    ·         अस्‍कोट वन्‍य जीव सैंक्‍चुअरी जिस जनपद में हैं, वह जनपद है पिथौरागढ़
    ·         कॉर्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान अपना जल प्राप्‍त करता है रामगंगा नदी से
    ·         नेशनल पार्कों में से जिसकी जलवायु उष्‍णकटिबंधीय से उपोष्‍ण, शीतोष्‍ण और आर्कटिक तक परिवर्तित होती है – नामदफा नेशनल पार्क
    ·         बुक्‍सा बाघ परियोजनाभारत के किस राज्‍य में स्थित है, वह है पश्चिम बंगाल
    ·         शुक्‍लाफांटा वन्‍यजीव अभ्‍यारण्‍य स्थित है नेपाल में
    ·         कॉर्बेट राष्‍ट्रीय उद्यान से होकर प्रवाहित होती है रामगंगा एवं कोसी नदियां
    ·         ब्रम्‍हपुत्र, दिफ्लु, मोरा दिफ्लु एवं मोरा धनसिरि नदियां प्रवाहित होती है काजीरंगा राष्‍ट्रीय उद्यान से होकर
    ·         साइलैंट वैली राष्‍ट्रीय उद्यान से होकर गुजरती है कुंतीपुजहा नदी
    ·         पंजाब प्रांत में व्‍यास और सतलुज के संगम पर स्थित है हरिके आर्द्रभूमि
    ·         राजस्‍थान प्रांत के भरतपुर में गंभीर और बाणगंगा नदी के संगम पर स्थित है केवलादेव घना राष्‍ट्रीय उद्यान
    ·         आंध्रप्रदेश में कृष्‍णा और गोदावरी नदी के डेल्‍टा में स्थित ताजे पानी की झील है कोलेरु झील
    ·         भारत के सर्वप्रथम एक समुद्री सैंक्‍चुअरी, जिसकी सीमाओं के अंतर्गत प्रवाल भित्तियां, मोलस्‍का, डॉल्फिन, कछुएऔर अनेक प्रकार के समुद्री पक्षी हैं, स्‍थापित किया गया है कच्‍छ की खाड़ी में
    ·         नीलगिरि की ‘मेघ बकरियां’ पाई जा‍ती हैं इरावीकुलम राष्‍ट्रीय पार्क में
    ·         जिसे मिनी काजीरंगा के नाम से भी जाना जाता है ओरंग अभ्‍यारण्‍य-असम
    ·         चिनार वन्‍य जीव विहार अ‍वस्थित है केरल में
    ·         सुल्‍तानपुर बर्ड सैंक्‍चुअरी स्थित है गुड़गांव (गुरुग्राम) में
    ·         तमिलनाडु का पक्षीविहार अवस्थित है कारीकिली में
    ·         जिस देश में उसके कुल क्षेत्रफल का 30 प्रतिशत से अधिक क्षेत्र राष्‍ट्रीय पार्क के अंतर्गत आता है भूटान
    ·         विश्‍व का सबसे बड़ा वानस्‍पतिक उद्यान स्थित है क्‍यू (इंग्‍लैंड) में
    ·         बुंदाला जीव मंडल आरक्षित क्षेत्र है जो हाल ही में UNESCO के मानव तथा जीव मंडल (मैन एवं बायोस्फियर- MAB) तंत्र में सम्मिलित किया गया है, यह स्थित है श्रीलंका में
    जैवमंडल रिजर्व उनकेक्षेत्रफल एवं स्‍थापना वर्ष
    क्रम सं.
    जैव मंडल रिजर्व
    क्षेत्रफल
    (वर्ग किमी में)
    स्‍थापना वर्ष
    1.       
    अचानकमान-अमरकंटक*
    3835.51
    2005
    2.       
    अगस्‍त्‍यमलाई*
    3500.36
    2001
    3.       
    दिहांग-दिबांग
    5111.50
    1998
    4.       
    डिब्रू-सैखोवा
    765
    1997
    5.       
    ग्रेट निकाबार*
    885
    1989
    6.       
    मन्‍नार की खाड़ी*
    10500
    1989
    7.       
    कंचनजंगा
    2619.92
    2000
    8.       
    मानस
    2837
    1989
    9.       
    नंदा देवी*
    5860.69
    1988
    10.   
    नीलगिरि*
    5520
    1986
    11.   
    नोकरेक*
    820
    1988
    12.   
    पचमढ़ी*
    4981.72
    1999
    13.   
    सिमिलीपाल*
    4374
    1994
    14.   
    सुंदरबन*
    9630
    1989
    15.   
    कच्‍छ
    12454
    2008
    16.   
    शीत रेगिस्‍तान
    7770
    2009
    17.   
    सेशाचलम पहाडि़यां
    4755.997
    2010
    18.   
    पन्‍ना
    29998.98
    2011
    नोट – * इन्‍हें यूनेस्‍कों ने MAB कार्यक्रय के तहत जैवमंडल रिजर्व के विश्‍वतंत्र की सूची में शामिल किया है।

    शिक्षक भर्ती नोट्स

    General Knowledge

    General Studies